मौसी और बहन की चूत एक साथ फाड़ी


हेल्लो मेरे पाठक दोस्तों मैं वंदन आप सब का स्वागत करता हूँ और आज मैं यहाँ हूँ तो चुदाई के अलवा कोई और बात तो हो नहीं सकती | जे हाँ मैं आज आपको अपनी एक चुदाई की घटना के बारे में बताऊंगा जिसे मैंने तीन साल पहले किया था | ये काम थोडा सा संगीन होता है क्यूंकि अगर आपकी शादी नहीं हुयी है तो आपको इसे अकेले में अंजाम देना होता है | मेरी तो शादी अभी तक नहीं हुयी पर मुझपे बहु साड़ी लड़कियां फ़िदा हैं | लड़कियों से मेरा मतलब है कि मुझपर कई चूतें फ़िदा हैं | मुझे ये सब बहुत अच्छा लगता है क्यूंकि मेरे पास टाइम भी है पैसा भी है और वो सब कुछ है जो एक लड़की को चाहिए होता है | मुझे अपने आप पर घमंड कही नहीं था क्यूंकि मुझे हमेशा अच्छी चूत मिली और मैंने उसे तरीके से चोदा | हमेशा मेरा एक ही काम रहता कि चूत को चोदो तो गांड को मत छोडो क्यूंकि मज़ा वहां भी उतना ही आता है | मैंने कई सील तोड़ी और कई लड़कियों की गांड को चौड़ा किया और मुझे गर्व है इस बात पर कि मैं इतना कर पता हूँ और लडकियां मुझसे खुश रहती हैं | पर एक किस्सा है जो आज मैं आपको सुनाना चाहता हूँ जो कुच लग है पर वो किस्सा है बड़ा मजेदार क्यूंकि इसमें मैंने अपनी सगी मौसी को और उनके बेटी को छोड़ा था और उन्होंने मुझसे कहा था बेटा तेरे लंड में जादू है | मैंने कभी हार नहीं मानी किसी भी चूत से और मुझे तो ये भी नहीं पता था कि ऐसा कुछ मेरी लाइफ में हो जाएगा और मुझे इस चीज़ के बड़े फायदे मिलेंगे | मैंने कभी जिंदगी में नहीं सोचा था किस मैं एक साथ दो दो लड़कियों की चुदाई करूँगा और मुझे कोई बुरा भला भी नहीं कहेगा और तो और मुझे पैसे भी मिला करेंगे | तो दोस्तों बात शुरू हुयी थी कोलेगे के दिनों से जब मेरा मन बिलकुल भी पढ़ाई में नहीं लगता था और मुझे रात को मुठ मारे बिना नींद अति नहीं थी | मैंने कई चूत छोड़ी थी पर फिर भी ये मेरी आदत बहन गयी थी कि अगर मैं रात को अपने लंड से माल न गिराऊं तो मुझे नींद नहीं आती थी | मुठ मार्के ऐसा लगता है जैसे मुझे शांति मिल गयी हो |

 

पर मुझे तो पता ही नही था की मेरे साथ मेरी बहन भी इस काम में लग जाएगी | बात स्टार्ट हुयी थी कॉलेज की क्लास से क्यूंकि मुझे कॉलेज जाने की आदत तो थी नहीं और मैं आवारागर्दी करता रहता था | मेरी बहन जिसका नाम सोना है वो मुझे सारे नोट्स लाकर देती थी और वही मेरी मेरी मौसी की बेटी भी है | मौसी ने कॉलेज में उसके मेरे साथ इसलिए डाला था कि वो मुझ पर नज़र रखे और मैं उसका ख़याल रखूं | पर यहाँ उल्टा होता था क्यूंकि मैं तो कॉलेज से गायब रहता था पर वो मेरा पूरा श्यान रखती थी | वो मुझे खाना खिलाती मेरी कॉपी कम्पलीट करके देती और न जाने क्या क्या | मैं उसके साथ बड़ा ही खुला खुला रहता था क्यूंकि मुझे उसके साथ शरत करने में बड़ा मज़ा आता था | एक दिन की बात है मसुई ने मुझे घर बुलाया और मुठ चिल्ला रही थीं | क्यूँ रे कॉलेज क्यूँ नहीं जाता है ? तेरी माँ से शिकायत करुँगी तेरी रुक जा ज़रा अब समझाती हूँ तुझे अच्छे से | मैंने कहा मौसी ये आपको किसने बताया | उसने कहा सोना मुझे सब बताती रहती है तुझे क्या लगता हम लोग वहां नहीं आते तो क्या खबर नहीं रहती तेरी ? मैंने कहा मौसी और मेरी प्यारी बहन सोना कहाँ है ? उन्होंने ने बोला अपने कमरे में है तैयार हो रही है कॉलेज के लिए | वो कमरे में थी और मैंने बिना कुछ बोले अन्दर जाने का मन बनाया था क्यूंकि बहुत गुस्सा आ रहा था उसपे मुझे | मैं बिना कुछ बोले ही अन्दर घुस गया और देखा वो बस ब्रा और पेंटी में खड़ी है और मैं उसे एक टक देखे जा रहा था | वो खुद को परदे में छुपा रही थी | मुझे जोश आया और मैंने जेक उसे अपनी बाँहों में जोर से पकड़ लिया | उसने कहा भाई क्या कर रहे हो छोड़ दो मुझे | मैं उसके पतले पेट और नाभि में हाथ फेर रहा था और उसके गाल पे किस करते करते बोल रहा क्यों रे सब बता दिया तूने | वो कह रही थी भाई कपडे तो पेहें लेने दे फिर आराम से कर लेना जो करना है | पर मैं उसे जाने ही नहीं दे रहा था और उसे छोटे दूध दबाये जा रहा था और वो कुछ भी नहीं बोल रही थी मुझसे |

 

मैंने उसे नहीं छोड़ा और वो भी मज़े लेने लगी और मैं उसे जगह जगह चूम रहा था | फिर मुझे लगा की मौसी आ रही है और वो मुझे ऐसे देख लेंगी तो दिक्कत हो जाएगी | उसके बाद मैंने उसे छोड़ा और उसके लिप्स पे किस किया और कहा पागल मत बताना आगे से | फिर उसके बाद मैंने सोचा कि जब तक चूत नहीं मिलती सोना से काम चला लेता हूँ और वो कुच्ग कहेगी भी नहीं क्यूंकि अब वो मुझसे लहेत गयी थी | उसके बाद मैंने उससे कहा की सोना चल मैं तुझे कहीं घुमाने लेके चलता हूँ और फिर उसने कहा कि ठीक है तू ले चल मैं भी कही नहीं गयी हूँ कई सालों से | मुझे लगा कि ये एक बहुत अच्छा मौका है उसे तैयार करने का और मैंने उसे अपनी एक गुप्त जगह पर ले जाने का फैसला किया | उस जगह पर जाकर कोई भी पागल हो जाता है क्यूंकि वहां का नज़ारा ही ऐसा है | मैंने सोचा की जैसे ही सोना वह मेरे पास आयेगी उसे मैं अपनी बाहों में जकड लूँगा और उसके बाद तो वो मेरे प्यार में गिर ही जाएगी | फिर मैंने उससे कहा सुन घर से कुछ खाने को भी ले आना मुझे तेरे ह्जाथ का खाना बड़ा अच्छा लगता है | उसने कहा की तीखी ले आउंगी पर वो जगह मेरे लिए सेफ है भी या नहीं | मैंने कहा अरे तू चल तो जब तक मैं हूँ तुझे कोई हाथ भी नहीं लगा सकता | वो अब पूरी तरह से मेरे चंगुल में थी और मैं सच में यही चाहता था | उसके बाद उसने मुझसे कहा चल तो मैंने कहा आजा मेरी गाडी पे बैठ जा और वो बैठ गयी | हम जब वह पहुंचे तब उसने कहा भाई क्या नज़ारा है यार तू यहाँ आता और पहले मुझे क्यूँ नहीं लाया यहाँ पर | मैंने कहा पहले ले आता तो तू इतना खुश थोड़ी न होती | फिर जैसा की मैंने सोचा था मैंने उसे बाँहों में भरा और उसके लिप्स पे किस करने लगा | वो बोल रही थी भाई तेरे इरादे ठीक नहीं लग रहे है | तब मैंने उससे कहा कि हाँ मैं तुझे चोदना चाहता हूँ और मैं वो करके रहूँगा | उसने कहा पागल तेरी नियत मुझे आज सुबह ही पता चल गयी थी जब तू मुझे ऐसे किस कर रहा था | मैंने कहा अच्छा तो तू भी रेडी है क्या उस सब के लिए उसने कहा हाँ यार मेरे भी दूध दबा दबा के बड़े करदे | मुझे भी एक बहुत घटक माल बनना है |

 

मैंने उससे कहा चल ये वाला काम हम घर में करेंगे क्यंकि यहाँ पे पुलिस के आने का खतरा है और मैं नहीं चाहता कि कोई भी पंगा हो | वो मेरी बात मान गयी और हम घर पहुंचे और मौसी पड़ोस में किसी के यहाँ गयी हुई थी |उसने कहा वंदन इससे अच्छा मौका नहीं है तो मैंने भी देर न करते हुए सीधा उसके कमरे में जाके उसके कपडे उतारे ओपर उसके उगते हुए दूध जो की निम्बू जैसे थे उसको चूसना शुरू कर दिया | वो आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ ऊउम्मम्म खा जाओ इनको वो आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ ऊउम्मम्म खा जाओ इनको  | मैंने कहा चलो अब तुम्हरी चूत पे अपना मुह लगा दूँ क्यूंकि उसका स्वाद मुझे चखना है | आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ ऊउम्मम्म आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ ऊउम्मम्म आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ ऊउम्मम्म और करो और करो इतना बोलते बोलते झड गयी वो | उतने में मौसी कमरे में आ गयी और बोली ये क्या हो रहा है | हम लोग डर गये फिर मौसी मेरे पास आई और कहा इतना बड़ा लंड उन्होंने तुरंत मेरे लंड को मुह में ले लिया और चूसने लगी | मुझे लगा वाह आज तो जन्नत मिल गयी | मौसी मेरा लंड चूस रही थी और मैं सोना की चूत चाट रहा था | फिर मौसी ने सोना की चूत चाटना चालू किया और मैंने उनकी चूत चाटी | वो भी झड़ गयी फिर मैंने मौसी की चूत में लंड डालके उनको चोदने लगा | फिर मौसी मेरी गांड चाट रही थी और मैंने सोना की चूत में लंड डाला और उसकी चूत फाड़ दी | और हम लोगों ने जाकर चुदाई की थी रातभर | दोस्तों मेरी इस रिश्तों में जोरदार चुदाई की कहानी कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा | मुझे इंतजार रहेगा |


error:

Online porn video at mobile phone


gaon ka sexhindi m sex storyrandi ki bursuhagrat kathaindian sex ki kahaniwww antarvasna sex stories comsambhog storychudai ki story hindi maigirl sex in hindinayi naveli bhabhi ki chudaiaunty ki sex storynangi chut me landmai chud gayiactress ki chudai ki kahanisuhagrat ki chudai hindi storybhabhi ki kahani hindisexy bhabhi ki jawanibachcho ki chudaichudai ki kahani hindi me with photosecxy storychudai ki kahani mausi kihindi sex store siteman ki chudaibaba sex storychudai savita bhabhijaanu ki chutdesi bhabhi openmuskan sexRainging ne Randi bna diya 20 sex story Hindi saxy filmesexy chudai kinanad ki chudaihindi sexy kandschool girl ki sex kahanijungal sexdesicodaixxxraand ki chudaighodi ki chut marisex hindi story latestMarathi six story ma ki chudai washeoom meydoodhwali chudai chudai desi chudai videosindian mami sex storiesantarvasna free hindi sex storyholi me bhabhi ki chudai ki kahanihindi sex store comsexy khaniya hindichudai ki manohar kahaniyaboor chudai kahani hindi mebeti ki chudaiantarvasna ki hindi kahaniantrbasna comchudai ke kissedesi sex realdesi vergin girl sexhinde sax satorechudai ki khaniyan in hindimastram ki chudai ki kahanimausi chudaisaudi ka sexchachi ki chudai hotel memaa bete ki nangi chudaitrain sex storiesbhayanak chudai ki kahaniindian suhagrat sexjija sali ki chudai ki kahani in hindichachi ki chudai storydevar bhabhi sex story in hindihindi me chudai storyjija sali ki chudai kahani hindiwww sexchut comchut fad dalichudai ki khaniya comsexx kahane ka sangrhSexy hindi khana bhai bhain keantvasan